ब्लॉगिंग में निरंतरता बनाए रखने की 7 बेस्ट टिप्स | Blogging Carrier Information (2022)

ब्लॉगिंग में निरंतरता बनाए रखने की 7 बेस्ट टिप्स | Blogging Carrier Information (2022)

ब्लॉगिंग में निरंतरता बनाए रखने की 7 बेस्ट टिप्स: Blog शुरू करने के बाद कई Bloggers की तरफ से यह सुनने को मिलता है कि वो लगातार Blogging पर Focus नही कर पा रहे हैं। ऐसे Bloggers यह जानना चाहते हैं कि Blogging में निरंतरता कैसे लाएं। ऐसे Bloggers के लिए आज हम ब्लॉगिंग में निरंतरता बनाए रखने की 7 बेस्ट टिप्स लेकर आएं हैं।

ये Tips आपके बहुत काम आने वाले हैं। यकीन मानिए यदि आपने इन Tips को अपना लिया तो एक सफल Blogger बनने का आधा रास्ता तो आपने तय कर लिया है।

तो चलिए वक़्त गवाते हुए जानते हैं ब्लॉगिंग में निरंतरता बनाए रखने की 7 बेस्ट टिप्सContentsshow

ब्लॉगिंग में निरंतरता बनाए रखने की 7 बेस्ट टिप्स

ये Tips कुछ इस प्रकार है:-

1. खुद के लिए हमेशा लिखें.

आप एक बार याद करिए कि Blogging की शुरुआत क्यों की थी? मैं Sure हूँ कि आपको लिखना अच्छा लगता है इसीलिए Blogging करना आपने शुरू किया है।

शुरुआत में खूब Motivation रहता है, इसलिए कम से कम 10-15 Post तो पूरे हो जाते हैं, लेकिन असली दिक्कत इसके बाद आती है।

आँखों मे एक सपना था कि प्रतिदिन हजारों की संख्या में लोग आपके Blog पर आयेंगे, लेकिन नतीजा आपके अपेक्षा के अनुसार नही आया, तो आपका Motivation कम होना लाजमी है।

तो आपको इस Situation में क्या करना चाहिए? इस Situation से बचने का सबसे अच्छा तरीका है, आप खुद के लिए पहले और दूसरों के लिए बाद में लिखें।

यही Rule आपको कम से कम 6-7 माह तक अपनाना है। यदि आप 7 माह तक लगातार अपने Blog पर Post करते रहे तो यकीन मानिए फिर कोई भी मुसीबत Blogging करने से आपको रोक नही पाएगी।

6-7 माह तक सही तरीके से यदि आपने Blogging की है तो Traffic आने लग जायेगा, जिसके बाद खुद Motivation मिलने लगेगा। लेकिन उसके बाद भी इस Golden Rule को मत भूलिए की हमेशा खुद के लिए लिखिए।

2. Blogging करने की जगह तय करें.

यदि आप एक Full Time Blogger बनना चाहते हैं और Blogging को ही अपना Career बनाना चाहते हैं तो आपको Serious होकर Blogging करना शुरू कर देना चाहिए।

जब आप ऑफिस में काम करते हैं तो एक निश्चित वक़्त के लिए खुद को काम के प्रति समर्पित कर देते हैं। बिजनेस में भी आप ऐसा ही करते हैं।

लेकिन अधिकतर नए ब्लॉगर सबसे बड़ी गलती करते हैं कि वह अपना एक दैनिक दिनचर्या नहीं बनाते हैं और इसमें सबसे बड़ी बाधा बनती है ब्लॉगिंग करने की एक जगह तय न होना।

कई नए ब्लॉगर घर से ही ब्लॉगिंग करते हैं वहीं कुछ ब्लॉगर Office से काम करना ज्यादा पसंद करते हैं। अब बात आती है कि दोनों में से सही जगह क्या है?

Blogging के लिए सही जगह वही है, जहाँ आप कम से कम Disturb हो और अपना पूरा ध्यान काम पर लगा सकें। यदि घर की बात करें तो हम यह देखते हैं कि कोई न कोई घरेलू काम आ जाता है।

फिर हम उसमे व्यस्त हो जाते हैं, फिर थोड़ा Rest किए। ऐसा करते करते पूरा दिन निकल जाता है। यानी घर से Blogging करने पर निरंतरता बनाए रखना एक बड़ी चुनौती है।

एक बार निरंतरता टूट गई तो फिर वापस बनने में 5-6 तो निकल ही जाते हैं। इसलिए अपने दिनचर्या को लेकर थोड़ा कठोर बनना जरूरी है, और यह तभी संभव है जब Blogging करने की जगह तय हो।

3. सिर्फ़ तैयारी ही न करते रहे, काम भी करें.

मैं अपनी Blogging यात्रा में यह खुद महसूस किया कर चुका हूं कि अधिकतर नए Blogger सोचने में बहुत ज्यादा वक्त बर्बाद कर देते हैं।

दुर्भाग्यवश मैं खुद भी इसका भुक्तभोगी हूँ, लेकिन मुझे यह जल्दी समझ में आ गया। Blogging शुरू करने से पहले हम Youtube Video और Blog आदि में माध्यम से Blogging के बारे सीखते हैं।

लेकिन समस्या सीखने में नही है, सीखना तो जरूरी है, तभी तो आप तरक्की कर पायेंगे। लेकिन सिर्फ सीखते ही रहना कहाँ तक सही है?

कुछ Blogger यदि सुनते और सीखते 80% है तो उसका 10% ही उपयोग करते हैं। वो सिर्फ सुनते ही रहते हैं, क्योंकि Blogging उनके लिए खूबसूरत सपने ही तरह होता है और उसके बारे में सुनना पसंद है।

लेकिन जब तक आप Blog पर काम नही करेंगे, तो उस जानकारी का क्या मतलब निकलेगा। फिर धीरे धीरे Blogging करने का उत्साह भी ठंडा पड़ता जाएगा।

इसलिए अभी जितनी जानकारी लेना जरूरी है उतनी ही लें, बाकी का समय काम पर लगाएं। काम करने के बाद यदि अतिरिक्त समय रहता है तो फिर कुछ सीख सकते हैं।

इससे आपको लगातार काम करने का Motivation भी मिलता रहेगा, क्योंकि काम करने से ही आगे काम करने का Motivation मिलता है, सिर्फ जानकारी इकट्ठा करते रहने से कुछ नही होगा।

यह भी परे:

4. Blogging को एक Business की तरह देखें.

Blogging का मतलब सिर्फ Content बनाना और Publish कर देना नही है। यह कोई 9-5 वाली जॉब भी नही है। इससे कितनी कमाई होगी यह भी तय नही है।

तो फिर Blogging आखिर है क्या? Blogging एक Business है। मैं तो यही मानता हूँ, क्या आप मेरी बात से सहमत हैं? नही हैं तो चलिए समझते हैं कैसे।

कोई भी जब एक Blog शुरू करता है तो उसे बहुत हम जानकारी होती है, ठीक बिज़नेस की तरह। जिस तरह बिज़नेस किसी एक क्षेत्र में केंद्रित होता है ठीक उसी तरह Blog भी किसी Niche पर focus होता है।

एक Business की तरह इसमे भी Loss होता है, अपने Product का प्रमोशन करना पड़ता है। कई महीने बिना किसी Profit के गुजर जायेंगे और फिर भी आपको मेहनत करते रहना है।

यहाँ मैं तुलनात्मक अध्ययन करके इसलिए बता रहा हूँ कि आप समझ सकें कि Blogging असल मे है क्या। कई Bloggers सालों काम करने के बाद भी पैसा नही कमा पाते, कारण यह कि वो समझ नही पाते कि Blogging असल में एक बिज़नेस की तरह है।

अपने Blog को एक बिज़नेस की तरह देखना शुरू करिए। आप एक बिज़नेस के मालिक है और आपको यह बिज़नेस सभी तरफ फैलाना और सफल बनाना है।

ऐसे Mindset के साथ काम करके देखिए, जोश 10 गुना बढ़ जाएगा।

5. Blogging से प्यार करिए न कि पैसे से.

क्या आप सच में Blogging से प्यार करते हैं? या आप पैसे कमाने के लिए सिर्फ Blogging कर रहे हैं क्योंकि आपने कही से सुन लिया कि इससे महीने का लाखों कमा सकते हैं?

यदि आप पैसे कमाने के लिए सिर्फ Blogging कर रहे हैं तो फिर आप ज्यादा दिन तक इस फील्ड में नही टिक पायेंगे, क्योंकि Blogging में बहुत ज्यादा उतार चढ़ाव आते हैं।

इन सभी उतार चढ़ाव को सिर्फ वही व्यक्ति झेल सकता है, जो सच मे Blogging करना पसंद करता है। इसलिए यदि आप Blogging में निरंतरता बनाए रखना चाहते हैं तो सबसे जरूरी टिप्स है कि Blogging को प्यार करें।

सभी सफल Bloggers के बारे में जानने के बाद यह समझ आया है कि शुरुआत सभी की एक जैसी ही होती है। शुरुआत में किसी के Blog में Traffic नही आता।

उनके Blog का Traffic भी कभी कभी अचानक गिर जाता है, कभी कुछ दिक्कत तो कभी कुछ। पर आज वो जिस मुकाम पर है वह दर्शाता है कि उन्होंने हार नही मानी थी क्योंकि वो Blogging को प्यार करते थे।

इसलिए यदि आप Post डाल डाल पर परेशान हो रहे हैं कि Traffic क्यों नही आ रहा तो भी ज्यादा परेशान मत होइए, क्योंकि आप भी Blogging से प्यार करते हैं।

6. Break लेना है जरूरी.

Blogging एक तरह 24×7 वाला काम है, जिसमे छुट्टी न के बराबर है। हम यह सुनते भी है कि Blogging के सफलता के लिए जरूरी है कि लगातार काम करते रहे।

इस चक्कर मे कई Bloggers नियम से इतना बंध जाते हैं कि मन न होने पर भी Blog Post बनाने की कोशिश करते हैं, लेकिन नतीजा यह होता है कि न तो Post अच्छे से बन पाता और न ही वो अपने आप को आराम दे पाते हैं।

यदि आप भी इसी तरह के Blogger है तो यह बिंदु आपके लिए ही है। Blogging एक Physical Work से ज्यादा Mental वर्क है।

इसलिए Mental Health का ध्यान देना भी बहुत जरूरी है। कई बार क्या होता है कि हमारा दिमाग काम करने के लिए तैयार नही रहता।

इसके पीछे की वजह दिमाग की थकान हो सकती है। इसलिए ऐसी स्थिति में आपको बिलकुल भी काम नही करना चाहिए। ऐसी स्थिति जब भी बने तो दिमाग को 1-2 दिन का पूरा आराम दें।

गाने सूने, घूमने जाएं, परिवार के साथ वक़्त बिताएं। इससे दिमाग को एक नया अनुभव मिलेगा और Fresh फील करेगा। इसके बाद आप पुनः तरोताजा दिमाग के साथ काम शुरू कर सकते हैं और अपना पूरा फोकस Blogging में लगा सकते हैं।

7. छोटे छोटे Target बनाएं.

आपने एक कहावत तो सुनी ही होगी कि एक युद्ध जीतने के लिए छोटी छोटी लड़ाइयां जीतनी पड़ती है। पर यदि आपको यही नही पता हो कि वो छोटी छोटी  लड़ाइयां क्या है तो कैसे जीत पायेंगे?

Blogging के साथ भी कुछ ऐसा ही है। सिर्फ कुछ दिन काम करके Blogging में कोई भी सफल नही हो पाया है और न पैसे कमा पाया है।

इसमे काफी परिश्रम लगता है। जो Blog शुरू करने वाले हैं या कर चुके हैं उन्हें कि एक वक्त बाद ऐसा महसूस होने लगता है कि किसी ने हमें एक खाली मैदान में लाकर छोड़ दिया है जहाँ दूर दूर तक कुछ भी नही दिखाई दे रहा।

एक दौर ऐसा आता है जब लगता है कि Blogging में हमने बस अपना वक़्त बर्बाद किया है और फिर वह Blogging करना छोड़ देता है।

इसलिए हमेशा छोटे लक्ष्य पर फोकस करें। छोटे लक्ष्य पर Focus करने से कभी हतोत्साहित नही होंगे और काम करने की प्रेरणा मिलती रहेगी।

आप लक्ष्य बना सकते हैं कि इस महीने कितने Post करने वाले हैं, आपका कितना Traffic लाना चाहते हैं Blog पर, या किसी सोशल मीडिया प्लेटफार्म से कुछ Traffic इस माह खींचना चाहते हैं।

ऐसे अनेक छोटे छोटे Target बनाएं और उन्हें पाने की कोशिश करें, तब आपके काम की निरंतरता नही टूटेगी।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो हमें Google News पर फॉलो करें।