GST नंबर कैसे प्राप्त करें? | GST Number Kaise Le 2022

GST नंबर कैसे प्राप्त करें? | GST Number Kaise Le 2022

GST नंबर कैसे प्राप्त करें: नमस्कार दोस्तों आशा करता हूं आप बिल्कुल ठीक होंगे दोस्तों हम आज इस आर्टिकल के मदद से GST Number Kaise Le? (जीएसटी नंबर कैसे प्राप्त करें?) के बारे में संपूर्ण जानकारी पूरे विस्तार से प्राप्त करने वाले हैं और समझने भी वाले हैं क्योंकि हमें मालूम है कि ऐसे बहुत सारे लोग हैं जो जानना चाहते हैं कि आखिर GST Kya Hai और GST Number कैसे लिया जाता है तो यदि आपको भी नहीं पता है तो कृपया आप हमारी इस आर्टिकल के साथ बने रहे। 

दोस्तों इस आर्टिकल में हम आपको GST और GST number से जुड़ी बहुत सारे जानकारियों को बताएंगे जैसे कि GST क्या है और जीएसटी रजिस्ट्रेशन कैसे करे? और इसके अलावा इस आर्टिकल मे हम आपको बतायेगे की GST का रजिस्ट्रेशन करना क्यों जरुरी है और फिर उसके बाद बताएंगे की GST Registration के लिए जरूरी दस्तावेज के बारे में की GST Registration के लिए किन किन जरूरी दस्तावेजो की आवश्यकता होती हैं।

इसके अलावा इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे की जीएसटी रजिस्ट्रेशन फीस कितनी होती हैं और GST Registration Status की जांच कैसे किया जाता हैं और GST का रजिस्ट्रेशन Time Limit क्या होता है  इसके अलावा इस आर्टिकल में हम आपको यह भी बताएंगे की GST Registration नहीं करवाने पर कितनी Penalty लगेगी। और आर्टिकल के अंत में हम आपको बताएंगे कि जीएसटी की आवश्यकता क्यों पड़ी। 

तो दोस्तों यदि आपको इन सभी जानकारियों के बारे में एक कुछ भी ज्ञान नहीं है और आप यह नहीं जानते हैं कि GST Kya Hai और GST Number कैसे लिया जाता है। तो हमें आपसे अनुरोध है कि कृपया आप हमारे इस आर्टिकल को पूरा ध्यान से अंत तक पढ़ें तभी आपको इन सभी जानकारियों के बारे में पूरा ज्ञान मिल पाएगा तो बिना कोई देरी के चलीये शुरू करते है आज के इस नए आर्टिकल को शुरू करते हैं और जानने कि प्रयास करते हैं कि आखिर जीएसटी रजिस्ट्रेशन कैसे करे? और GST Number Kaise Le?

GST क्या है? | GST Kya Hai?

GST का पूरा नाम goods and services tax है। अर्थात वस्तु एवं सेवा कर, भारत सरकार पहले वस्तुओं और सेवाओं पर अलग-अलग से tax लगाती थी। लेकिन GST के नियम के आने के बाद से अब प्रोडक्ट और सेवा का tax एक साथ ही आपको चुकाना पड़ता है। चूंकि पहले की कार्यप्रणाली बड़ी जटिल हुआ करती थी क्योंकि consumer को goods के लिए अलग से tax चुकाना पड़ता था और services के लिए अलग से. 

इससे प्रोडक्ट खरीदने वाले कंजूमर को ज्यादा परेशानी उठाना पड़ता था और कंजूमर पर ज्यादा भार पड़ता था। इन सब सभी समस्याओं के निदान के लिए भारत सरकार ने 1st July 2017 को GST की अवधारणा पूरे देश के सामने पेश की। यदि GST की परिभाषा एक शब्दों में दी जाए तो जीएसटी वस्तुओं और सेवाओं यानी की goods and services पर लगने वाला व्यापक कर है। 

यह अप्रत्यक्ष करों में सुधार है। जिसके अंतर्गत एक देश एक कर तथा एक बाजार की संकल्पना को साकार किया जाता है। GST के अंतर्गत वस्तुओं और सेवाओं यानी की goods and services पर लगाए जाने वाले विभिन्न-विभिन्न अप्रत्यक्ष करों को एक कर के रूप में समाहित किया गया है. 

यदि हम संक्षेप में कहें तो GST का मुख्य लक्ष्य कर की दर एवं प्रक्रिया में समरूपता लाकर आर्थिक बाधाओं को पूरी तरह से समाप्त करना और राष्ट्रीय साझा बाजार की स्थापना करना है. 

GST नंबर कैसे प्राप्त करें? | GST Number Kaise Le?

दोस्तों यदि आप भी अपना जीएसटी नंबर लेना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास GST Number मे लगने वाले लीगल डॉक्यूमेंट होना काफी जरूरी है जैसे कि आपके पास documents में PAN Card, Aadhar Card और साथ ही साथ बिजली का बिल और  इसके अलावा उसके साथ ही साथ आपका House Tax का hard copy और साथ ही साथ आप जिस किराए के मकान में office लिए हैं,

उसका किराए के मकान के एनओसी पेपर और साथ ही साथ phone number और email ID की जरूरत पड़ सकती है। तो हमलोग आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम यह ही जानेंगे की जीएसटी नंबर कैसे लिया जाता है  और जीएसटी नंबर लेने के प्रोसेस क्या क्या होते हैं उस जीएसटी नंबर लेने के प्रोसेस में आने वाली कठिनाई क्या है? और उसका समाधान क्या-क्या हो सकता है?

यह भी परे:

GST रजिस्ट्रेशन कैसे करे? GST Registration Kaise Kare?

(How to Apply for GST Number) 

दोस्तों इस टॉपिक मे हम आपको बताएं कि आप जीएसटी के लिए अप्लाई कैसे कर सकते हैं और जीएसटी कैसे ले सकते हैं तो यदि आप भी अपने बिजनेस के लिए जीएसटी नंबर लेना चाहते हैं तो कृपया आप हमारे इस टॉपिक को  पूरे ध्यान से और अंत तक पढ़े दोस्तों चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को और जानते हैं कि जीएसटी रजिस्ट्रेशन कैसे किया जाते हैं 

जीएसटी रजिस्ट्रेशन कैसे किया जाता है यह जानने के लिए कृपया आप नीचे बताए गए सभी स्टेप्स को ध्यान से पढ़े और उन्हें एक-एक करके फॉलो करें:-

Step 1. जीएसटी नंबर लेने के लिए और अप्लाई करने के लिए सबसे पहले आपको इनके Official Website पर चले जाना है।

Step 2 वेबसाइट को ओपन करने के बाद अब आप  आपके सामने HOME PAGE खुलने के बाद न्यु registration के लिये फार्म GST REG-01 को select करे।

Step 3. फार्म GST REG-01 मे जो भी जानकारी मांगी गयी हो उसे भरे जैसे:- आपका name, pan number, mobile number और भी बहोत कुछ उसके बाद Proceed के ऑप्शन पर click कर दिजिये।

Step 4. उसके बाद अब आपके सामने एक new page open हो जायेगा जिसमे आपने अपना number दिया होगा, उसके बाद Verification के लिये आपके उस नंबर पर एक OTP आयेगा।

Step 5. इसके बाद आये हुवे OTP का number भर के verify कर लेने के बाद confirm कर दिजिये, इसके बाद आपके द्वारा दिये गये फोन number या फिर email पर application रेफरेंस number (application reference number) APN आयेगा। इस number को नोट कर ले।

Step 6. number को नोट कर लेने के बाद अब आपको GST REG-01 फार्म का दूसरा भाग भरना है इसमे आपका पहचान और business के जरुरी दस्तावेज को upload करना होता है। इसके बाद APN number डालकर भाग 2 को Submit कर दे।

Step 7. GST REG-02 submit होने के बाद GST REG-03 मिलेगा और GST REG-03 मिलने के बाद अब 7 दिन के भितर form GST REG-04 को भरकर submit करना होता है।  

Step 8. अब इन सारे Process पूरा करने के बाद आपको 15 दिनो के अन्दर एक Acknowledgement  नंबर  दे दिया जाता है जिससे आप अपना GST रजिस्ट्रेशन के Status को देख सकते है।

इसके बाद आपको कुछ ही दिन बाद आपका जीएसटी नंबर मिल जाएगा तो इस प्रकार से आप जीएसटी नंबर के लिए अप्लाई कर सकते हैं और जीएसटी नंबर ले सकते हैं  अब हमें उम्मीद है कि अब आपको समझ में आ गया होगा कि जीएसटी नंबर कैसे लिया जाता है। आर्टिकल के अगले टॉपिक की ओर बढ़ते हैं और जानते हैं कि GST का रजिस्ट्रेशन करना क्यों जरुरी होता है और GST रजिस्ट्रेशन क्यों करना चाहिए। 

GST का रजिस्ट्रेशन करना क्यों जरुरी है?

दोस्तों यदि हम बात करे की GST का रजिस्ट्रेशन करना क्यों जरुरी है? तो हम आपको जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि पूरे देश में क्रय-विक्रय पर एक सामान tex लागू होता है। इसके लागू होने के कारण आपको विभिन्न-विभिन्न प्रकार के अप्रत्यक्ष tex का भुगतान नहीं करना पड़ेगा। 

जिनका समुचित कारोबार एक वित्त वर्ष में 20 लाख या इससे अधिक है उन businessman और करदाताओं के लिए GST के अंतर्गत online registration करना अनिवार्य है।

GST के अंतर्गत छोटे उद्यमी और कारोबारियों को राहत दी गयी हैं इसलिए ऐसे उद्यमी या कारोबारी जिनकी वार्षिक बिक्री 20 लाख रूपये से कम हैं तो उनके द्वारा apply की गई goods और services पर GST नहीं लगाया जाएगा। उत्तरी पूर्वी राज्यों  Arunachal Pradesh,   Manipur, Meghalaya, Assam, Mizoram,  Uttarakhand Tripura, Sikkim, Himachal Pradesh and Nagaland, आदि में यह छूट सीमा 10 लाख रूपये हैं। 

GST Registration के लिए जरूरी दस्तावेज 

दोस्तों इस टॉपिक में हम लोग बताएंगे कि GST Registration के लिए कौन-कौन से जरूरी दस्तावेज की आवश्यकता होती है  तो यदि आप जानना चाहते हैं कि जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए कौन-कौन सी जरूरी दस्तावेजों की आवश्यकता होती है तो कृपया आप हमारे इस टॉपिक को पूरे ध्यान से और अंत तक पढ़े  कितने शुरू करते हैं इस टोपी को जानते हैं उन सभी जरूरी दस्तावेजों के बारे में जो कि आपको जीएसटी रजिस्ट्रेशन कराने वक्त आवश्यकता होगी.

• PAN card (यदि आपके business के नाम से PAN card है तो वो दीजिए नहीं तो business यदि proprietorship business है तो मालिक के नाम से जो PAN card है वो दीजिए)

• इसके अलावा जीएसटी रजिस्ट्रेशन कराने के लिए आपके पास पहचान पत्र होना चाहिए और voter ID / Aadhar card/ passport/ driving licence)

• और जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए आपके पास कुछ address proof होना चाहिए जैसे कि  (voter card/ Aadhar card/ electric bil) 

• इसके अलावा जीएसटी रजिस्ट्रेशन कराने के लिए आपके पास एक बैंक अकाउंट स्टेटमेंट होना जरूरी है।

दोस्तों यह सभी कुछ जरूरी दस्तावेज और कागजात जो आपको जीएसटी रजिस्ट्रेशन कराने सुबह काम आएंगे क्योंकि यह सभी दस्तावेज जीएसटी रजिस्ट्रेशन के लिए काफी ज्यादा आवश्यक है और यदि आपके पास ये सभी दस्तावेज और कागजात है तो ही आप जीएसटी नंबर के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

GST रजिस्ट्रेशन फीस? | GSYT Registration Fees?

दोस्तों इस टॉपिक में हम लोग बात करेंगे कि जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए कितनी फीस लगती है यदि आप जानना चाहते हैं कि जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए कितनी फीस लगती है तो कृपया आप हमारे इस टॉपिक को पूरे ध्यान से पढ़ें तो बिना कोई देरी के चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को जानते हैं जीएसटी रजिस्ट्रेशन फीस के बारे में पूरा विस्तार से, 

दोस्तों यदि आप जानना चाहते हैं कि जीएसटी रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए कितना फीस लगता है तो हम आपको जानकारी के लिए बता दें कि जीएसटी रजिस्ट्रेशन के लिए आपको एक भी रुपिया देने की जरूरत नहीं क्योंकि GST registration पूरी तरह से फ्री है।

लेकिन यदि आप जीएसटी रजिस्ट्रेशन किसी थर्ड पार्टी के मदत से करते है तो उनलोग अपने चार्ज लेते है। लेकिन ध्यान रहे जीएसटी रजिस्ट्रेशन के लिए एक भी पैसा नहीं लगते।

दोस्तों हम अपनी जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि यदि आप इस आर्टिकल को पूरा अंत तक पढ़ेंगे तो हम आपको गारंटी के साथ बताना चाहते हैं कि आपको उसके बाद एक भी रुपया देने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि हम आपको बताएंगे कि जीएसटी रजिस्ट्रेशन को अपने मोबाइल फोन के द्वारा कैसे किया जाता है और उसके बाद आप अपने मोबाइल से रजिस्टर कर पाएंगे।

GST Registration Status की जांच कैसे करें?

दोस्तों इस टॉपिक में हम आपको बताएंगे कि GST Registration Status की जांच कैसे किया जाता है तो यदि आप जानना चाहते हैं कि GST Registration Status की जांच कैसे करते हैं तो कृपया आप हमारे इस टॉपिक को पूरे अंत तक और ध्यान से पढ़ें तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को और जानते हैं कि जीएसटी रजिस्ट्रेशन स्टेटस की जांच कैसे किया जाता है। 

GST Registration Status की जांच कैसे करें? यह जानने के लिए कृपया आप हमारे नीचे बताए गए सभी स्टेप्स को ध्यान से पढ़ें और उन्हें एक-एक करके फॉलो करें:-

  • GST Registration Status की जांच करने के लिए आप https://services.gst.gov.in/services/arnstatus वेबसाइट को ओपन करे।
  • वेबसाइट को ओपन करने के बाद अब आप अपना Application Reference Number और captcha type करे। 
  • और captcha type करने के बाद फिर search के बटन पर click करें।
  • search के बटन पर क्लिक करने के बाद अब आपके सामने GST Registration Status Display हो जायेगा।

दोस्तों इस प्रकार से आप GST Registration Status की जांच कर सकते है दोस्तों अब हमें उम्मीद है कि अब आप जान गए होंगे कि GST Registration Status की जांच कैसे किया जाता है तो दोस्तों चलिए अब इस आर्टिकल के अगले टॉफी की ओर बढ़ते हैं और जानते हैं कि GST Application Reference Number जांच कैसे किया जाता हैं। 

GST Application Reference Number (ARN) जांच कैसे करें?

दोस्तों इस टॉपिक में हम आपको बताएंगे कि GST Application Reference Number (ARN) जांच कैसे किया जाता हैं और आप भी GST Application Reference नंबर की जांच कैसे कर सकते हैं तो दोस्तों यदि आप जानना चाहते हैं  तो हमें आपसे अनुरोध है कि  कृपया हमारे इस टॉपिक को पूरे अंत तक और ध्यान से पढ़ें तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को जानते हैं कि GST Application Reference Number (ARN) जांच कैसे किया जाता हैं। 

GST Application Reference Number (ARN) जांच कैसे करें? यह जानने के लिए कृपया आप हमारे नीचे बताए गए सभी स्टेप्स को ध्यान से पढ़ें और उन्हें एक-एक करके फॉलो करें:-

Step 1.GST Application Reference Number को जांच करने के लिए सबसे पहले आप  www.gst.gov.in GST  वेबसाइट को ओपन करें और उसके homepage पर जाएं।

Step 2. वेबसाइट को ओपन हो जाने के बाद आप उस के होम पेज पर आ जाएंगे फिर EXISTING USER LOGIN के ऑप्शन पर click करें।

Step 3. EXISTING USER LOGIN के ऑप्शन पर click करने के बाद अब आपके सामने Login page open हो जायेगा खुलेगा। 

Step 4. Login page open हो जाने के बाद यहाँ आपको अपना  यूजर नेम और पासवर्ड टाइप करना है.

Step 5. यूजर नेम और पासवर्ड टाइप करने के बाद फिर आपको यहाँ कॅप्टचा टाइप कर login button कर click करना है।

Step 6. login button पर click करने के बाद अब आपके सामने Welcome Page open हो हो जायेगा।

Step 7. Welcome Page ओपन होने के बाद अब आपको यहाँ Continue button पर click करना है।

Step 8. Continue button पर click करने के बाद आप की स्क्रीन पर Dashboard Display होगा। 

Step 9. इसके बाद अब अब आपको My Saved application command पर जाना है। 

Step 10. जहां आपको अपना My Application Status page पर ARN status of your Enrolment Application दिखाई देने लगेगा। 

दोस्तों इस प्रकार से आप GST Application Reference Number की जांच कर सकते है दोस्तों अब हमें उम्मीद है कि अब आप जान गए होंगे कि GST Application Reference Number की जांच कैसे किया जाता है तो दोस्तों चलिए अब इस आर्टिकल के अगले टॉफी की ओर बढ़ते हैं और जानते हैं कि GST Registration Status Check कैसे किया जाता हैं। 

GST Registration Status Check

दोस्तों इस टॉपिक में हम आपको बताएंगे कि आप GST Registration Status को  कैसे Check कर सकते हैं तो यदि आप जानना चाहते हैं कि GST Registration Status Check कैसे किया जाता है तो कृपया आप हमारे इस टॉपिक को पूरे अंत तक और ध्यान से पढ़ें  तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को और जानते हैं कि GST Registration Status Check कैसे किया जाता है। 

GST Registration Status Check करने के लिए सबसे पहले आपको  अपने मोबाइल फोन को ओपन कर लेना है और उसमें क्रोम को ओपन कर लेना है क्रोम को ओपन करने के बाद आप फिर से इस https://www.gst.gov.in/ साइट को ओपन कर देना है।

साइट को ओपन कर कर लेने के बाद अब आपको वहां पर एक Services के बटन मिलेगा वहां पर उस Services के बटन क्लिक कर देना है। जैसे ही आप उसे क्लिक करेंगे आपके सामने एक New Registration के option आ जायेगा आपको उस option पर click कर देना है।

जैसे ही New Registration के option पर आप क्लिक करेंगे अब आपके समने एक नई पेज में तीन option आएगा जैसे

• New Registration

• Track Application Status

• Application for Filling Clarifications

उसके बाद यहां पर आपको दूसरा option (Track Application Status) पर click कर देना है।

अब आपके email ID पर जो ARN नंबर आये थे उसे डालकर Search के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है। जैसे ही click करेंगे आपके सामने पूरे details आ जायेगा।

तो दोस्तों इस प्रकार से आप अपने मोबाइल फोन से ही GST Registration Status Check कर सकते हैं और जान सकते हैं कि आपका जीएसटी नंबर क्या है  दोस्तों यदि आप हमारे इस टॉपिक को पूरे अंत तक होंगे तो हमें उम्मीद है कि अब आप समझ गए होंगे की GST Registration Status Check कैसे किया जाता है।

GST का रजिस्ट्रेशन Time Limit

दोस्तों इस टॉपिक में हम आपको बताएंगे कि GST का रजिस्ट्रेशन Time Limit क्या होती है और GST का रजिस्ट्रेशन करना कब तक जरूरी होता है तो दोस्तों यदि आप जानना चाहते हैं की GST का रजिस्ट्रेशन Time Limit क्या होती है तो हमें आपसे अनुरोध है कि कृपया हमारे इस टॉपिक को पूरे अंत तक और ध्यान से पढ़ें तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को जानते हैं कि GST का रजिस्ट्रेशन Time Limit क्या होती है। 

दोस्तों यदि हम जीएसटी के रजिस्ट्रेशन की टाइम लिमिट की बात करें तो GST कानून के अनुसार GST में रजिस्ट्रेशन उस दिन से 30 दिनों के अंदर ही कंप्लीट हो जाना चाहिए।

जिस दिन कोई business GST में Registration के लिए Liable होता हैं यानि कि जब भी कोई business 20 लाख रूपये (पूर्वोतर राज्यों में 10 लाख रूपये) की  limit को cross करता हैं उस दिन से 30 दिनों के भीतर GST registration लेना आवश्यक हैं।

फिर जब भी कोई business GST registration की अनिवार्यता की अन्य परिस्थितियों जैसे Inter-State अप्लाई करना या  ई-कॉमर्स Operator के द्वारा product या माल बेचना आदि परिस्थितियों में कवर होता हैं उस दिन से 30 दिनों के भीतर registration लेना होता हैं।

GST Registration नहीं करवाने पर कितनी Penalty लगेगी

दोस्तों यदि हम बात करे की GST Registration नहीं करवाने पर कितनी Penalty लगेती है। अगर कोई व्यक्ति या व्यवसाय जो GST में registration लेने के लिए उत्तरदायी हैं लेकिन वह GST मे registration नहीं लेता या Late रजिस्ट्रेशन लेता हैं तो उस पर GST कानून के तहत 10000 रुपए की Penalty लग सकती हैं अगर वह इस Non-Compliance को उकसाता हैं या अधिक बढ़ाता हैं, तो उस पर 25000 रुपए तक की Penalty लग सकती हैं। 

GST की आवश्यकता क्यों पड़ी?

दोस्तों इस टॉपिक में हम आपको बताएंगे कि जीएसटी की आवश्यकता क्यों पड़ी तो दोस्तों यदि आप जानना चाहते हैं की जीएसटी की आवश्यकता क्यों पड़ी थी तो हमें आपसे अनुरोध है कि कृपया हमारे इस टॉपिक को पूरे अंत तक और ध्यान से पढ़ें तो चलिए शुरू करते हैं इस टॉपिक को जानते हैं कि जीएसटी की आवश्यकता क्यों पड़ी। 

(1)  दोस्तों जैसा कि हम सभी लोगों को पता है कि पहले के समय में बहुत सारे अलग-अलग प्रकार के टैक्स लगते थे इसके वजह से लोगों को काफी ज्यादा तकलीफ होती थी जिससे न केवल उत्पादन और सर्विसेज की लागत बढ़ जाती थी बल्कि इससे काफी ज्यादा मुद्रास्फीति भी होती थी।

(2) दोस्तों जैसा कि हम सभी लोगों को पता है कि पहले के समय में अलग-अलग राज्यों में अलग अलग tax व्यवस्था विद्यमान थी इसके परिणाम स्वरूप integrated national market की स्थापना नहीं हो पाती थी। क्योंकि इसके वजह से ऐसा करना काफी ज्यादा मुश्किल था। 

(3)  और जैसा कि हम सभी को मालूम है कि भारत में विभिन्न विभिन्न प्रकार की टेक्स्ट लगती थी और तथा विभिन्न प्रकार की कर की दरें भारत की अर्थव्यवस्था में जटिलता उत्पन्न करती थी।

GST की विशेषताएं क्या है?

GST  का मतलब यह है कि वस्तु अथवा सेवाओं अथवा दोनों की supply पर लगने वाला tex है। यानी कि अलग-अलग प्रकार के टैक्स को ही जीएसटी कहा जाता है.

GST कर कितने प्रकार के होते है? 

दोस्तों यदि आप का सवाल है कि जीएसटी कितने प्रकार के होते हैं तो हम अपना जानकारी के लिए बताना चाहेंगे कि GST दो प्रकार के होते है :-

1. CGST (Central Goods and Service Tax)

2. SGST (State Goods and Service Tax)

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो हमें Google News पर फॉलो करें।